Bihar Sukha Rahat 3500 बिहार सूखा, पीड़ितों को मिला दिवाली का उपहार, खाते में 3,500 रुपये आर्थिक सहायता राशि

Share this...

Resultsgo.in®

बिहार सुखा राहत Anudan Yojana 2022

Bihar Sukha Rahat 3500: बिहार राहत योजना 2022  के तहत बिहार सरकार ने, राज्य के कुल  11 जिलो  के  सूखा पीडि़त किसानो  को 3,500 रुपयो की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है और इसीलिए हम आप सभी सूखा पीड़ित किसानो  को इस लेख मे, विस्तार से Bihar Sukha Rahat 3500 के बारे मे बतायेगे

Bihar Sukha Rahat 3500 के तहत न्यू अपडेट को जारी करते हुए  बिहार के माननीय मुख्यमंत्री श्री. नीतिश कुमार  ने,  राज्य के 11 जिलो के कुल 7,841 सूखा पीड़ित किसानो  के बैंक खातो  में,  कुल 3,500  – 3,.500  रुपयो की  आर्थिक सहायता राशि   जारी कर दिया है जो कि, सभी लाभार्थियो के बैंक खातो में, जमा कर दी जायेगी

बिहार सुखा राहत भुगतान योजना 2022

( बिहार सुखा अनुदान योजना 2022 )

Application Open

WWW.RESULTSGO.IN®
Post  Name 

बिहार सुखा राहत योजना 2022

Post Update 23/10/2022
Registration Start  September 2022
Registration Mode Online
Fee 0/-
नई अपडेट बिहार के माननीय मुख्यमंत्री श्री. नीतिश कुमार ने, राज्य के 11 जिलो के कुल 7,841 सूखा पीड़ित किसानो के बैंक खातो में, कुल 3,500 – 3,.500 रुपयो की आर्थिक सहायता राशि जारी कर दिया है।

 

Bihar Sukha Anudan Yojana के लाभ
  • ताजा मिले अपडेट के अनुसार, बिहार सरकार ने, दिपावली के पावन पर्व के उपलक्ष्य में बिहार राज्य के सभी सूखा पीडित किसानो के बैंक खाते मे, 3,500 रुपयो की आर्थिक सहायता राशि को जारी कर दिया गया है,
  • ताजा जारी आंकड़ो के अनुसार, बिहार राज्य के कुल 11 जिलो के 96 प्रखंडो के रिक्त कुल 937 पंचायतो के 7,841 राजस्व ग्रामो के कुल 2 लाख 4 हजार 280 सूखा पीडि़त किसानो के बैंक खातो मे, कुल 3,500 – 3,500 रुपयो की आर्थिक सहायता राशि को जारी कर दिया गया है,
  • आपको बता दें कि, उपरोक्त आंकड़ो के अनुसार सभी सूखा पीड़ित किसानो को 3,500 – 3,500 रुपयो की आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए बिहार राज्य सरकार ने, कुल 71 करोड़ 49 लाख 80 हजार रुपय जारी किये हैं आदि।

बिहार सुखा अनुदान योजना

किन 11 जिलो के सूखा पीडि़त किसानो को मिली है आर्थिक सहायता राशि?

  • गया,
  • औरंगाबाद,
  • नवादा,
  • जहांनाबाद,
  • नालन्दा,
  • मुंगेर,
  • शेखपुरा,
  • लखीसराय,
  • जमुई,
  • भागलपुर और
  • बांका आदि।

उपरोक्त जिलो के सूखा पीडित किसानो को इस योजना का लाभ प्राप्त हुआ है व दिया जा रहा है।

अन्त, इस प्रकार कुछ बिंदुओं की मदद से हमने आपको विस्तार से बिहार सूखा राहत 3500 को लेकर जारी न्यू अपडेट के बारे मे बतायेगे ताकि आप इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें

 

Important Links
डीजल अनुदान योजना 2022 ऑनलाइन पंजीकरण
Click Here
Official Notice  Click Here
Official Site  Click Here 
YouTube Channel  Click Here 
Join Telegram Click Here
WhatsApp Group Click Here

Powered By –www.resultsgo.in

Bihar Diesel Anudan Yojana से संबंधित प्रश्न उत्तर

बिहार डीजल अनुदान की शुरुआत क्यों की गयी है ?

खरीफ एवं रबी की फसलों में मौसम के अल्पवृष्टि के कारण जो फसलों में सूखापन आ जाता है उस समस्या को दूर करने के लिए बिहार राज्य सरकार के द्वारा यह निर्णय लिया गया की किसानों को सिंचाई की सुविधा हेतु डीजल में अनुदान का लाभ प्रदान किया जायेगा।

किसानों को योजना के तहत कितना अनुदान दिया जायेगा ?

डीजल अनुदान के तहत किसानों को प्रति लीटर के हिसाब से 60 रूपए तक की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

अगर आवेदक किसान का बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक नहीं होगा तो क्या वह योजना के तहत मिलने वाली राशि को प्राप्त कर सकते है ?

नहीं आवेदक किसान बिहार डीजल अनुदान योजना में आवेदन करने के लिए तभी पात्र है जब उनका बैंक अकाउंट आधार नंबर से लिंक को अन्यथा किसान इस योजना के तहत मिलने वाले लाभ को प्राप्त नहीं कर सकते है।

बिहार डीजल अनुदान के तहत किसानों को आवेदन करने के लिए कितनी श्रेणियों में विभाजित किया गया है ?

किसानों को बिहार डीजल अनुदान योजना में आवेदन करने के लिए 3 श्रेणियों में विभाजित किया गया है जिसमें किसान स्वंय ,बटाईदार ,स्वयं +बटाईदार के रूप में आवेदन प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।

योजना के माध्यम से किसान कौन से फसल के लिए अनुदान को प्राप्त कर सकते है ?

रबी एवं खरीफ दोनों फसलों के सिंचाई हेतु किसान नागरिक डीजल अनुदान का लाभ प्राप्त कर सकते है।

बिहार डीजल अनुदान का लाभ प्राप्त करने के लिए किसान नागरिक कहाँ से आवेदन कर सकते है ?

प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, कृषि विभाग, बिहार सरकार dbtagriculture.bihar.gov.in की ऑफिसियल वेबसाइट से राज्य के नागरिक डीजल अनुदान का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन कर सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *