टॉप-10 भारत-पाकिस्तान हाई वोल्टेज मैच:कराची में पत्थर चलने लगे फिर भी जीती इंडिया

Share this...

 

नई दिल्ली-  क्रिकेट, वर्ल्ड कप और भारत-पाकिस्तान मैच। यानी रोमांच का ट्रिपल डोज। 23 अक्टूबर को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर फिर दोनों टीमें आमने-सामने होंगी। इस बार मौका टी-20 वर्ल्ड कप का है। दोनों टीमों के फैंस को एक और हाई वोल्टेज मैच का इंतजार है। 

 

इस स्टोरी में हम ऐसे 10 भारत-पाक मुकाबलों से गुजरेंगे जिनकी यादें हमारे जेहन में अब भी ताजा हैं। इनमें वर्ल्ड कप के साथ-साथ एशिया कप और द्विपक्षीय सीरीज के मुकाबले भी शामिल हैं। शुरुआत उन मुकाबलों से करेंगे जब भारतीय फैंस का दिल टूटा था और आखिरी हिस्से में वो मैच आएंगे जिनको याद कर हम आज भी खुशी से झूम उठते हैं। तो चलिए इस रोमांचक सफर पर…

पहले देख लेते हैं अब तक वर्ल्ड कप में खेले गए 13 मुकाबलों के रिजल्ट…

 

 

10. जब पहली बार पाकिस्तान से वर्ल्ड कप में हारा भारत

पहली बार वर्ल्ड कप में भारत पाकिस्तान की भिड़ंत 1992 में हुई थी और इसके बाद खेले गए 12 मुकाबलों में भारतीय टीम लगातार जीत दर्ज करते आ रही थी, लेकिन 2021 के टी-20 वर्ल्ड में सब बदल गया। पहली बार वर्ल्ड कप के इतिहास में पाकिस्तान की टीम ने भारत को हराया।

 

भारत ने टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए 151/7 का स्कोर बनाया। पाकिस्तान की जीत में बड़ा रोल युवा तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी ने निभाया था।

 

उन्होंने अपने पहले दो ओवरों में रोहित शर्मा को 0 और केएल राहुल को 3 रन पर आउट कर दिया था। बाद में विराट कोहली जो 57 रन बनाकर खेल रहे थे उनको भी पवेलियन की राह दिखाई। इस शानदार प्रदर्शन के लिए शाहीन को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

 

152 के लक्ष्य का पीछा कर रही पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाजों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए मैच को एकतरफा बना दिया। बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान ने टीम इंडिया के गेंदबाजों को कोई मौका ही नहीं दिया। शुरू से ही दोनों बल्लेबाज टीम इंडिया के गेंदबाजों पर हावी रहे और मुकाबला 13 गेंद पहले 10 विकेट से जीतकर अपने नाम किया। बाबर ने 68 और रिजवान ने 79 रन बनाए थे।

9. अफरीदी ने अश्विन को छक्का मारा और पाकिस्तान जीत गया
2014 के एशिया कप में छठा मुकाबला खेला जा रहा था। पाकिस्तान को आखिरी ओवर में जीत के लिए 10 रनों की दरकार थी। कप्तान विराट कोहली ने आर अश्विन को गेंदबाजी करने के लिए बुलाया। पहली ही गेंद पर सईद अजमल को उन्होंने क्लीन बोल्ड कर इंडिया की जीत की आस जगा दी।

क्रीज पर नए आए जुनैद खान ने बड़ी समझदारी के साथ अपना विकेट बचाया और स्ट्राइक शाहिद अफरीदी को थमा दी। अफरीदी ने तीसरी गेंद पर दमदार छक्का जमाया। उनके उस छक्के ने मैच पूरी तरह पाकिस्तान की गिरफ्त में कर दिया।

अब जीत के लिए कुल 4 रनों की जरूरत थी और अफरीदी के पास खेलने के लिए तीन गेंदों का मौका। अफरीदी ने अश्विन के ओवर की चौथी गेंद पर जोरदार प्रहार किया। गेंद उनके बल्ले का ऊपरी किनारा लेकर हवा में ऊंची उछली। ऐसा लग रहा था कि गेंद फील्डर के हाथों में गिरेगी, लेकिन अफरीदी के पावर से वह बाउंड्री पार कर गई। मियांदाद स्टाइल छक्के के साथ अफरीदी ने पाकिस्तान को 1 विकेट की रोमांचक जीत दिला दी।

 

 

टॉप-10 भारत-पाकिस्तान हाई वोल्टेज मैच:कराची में पत्थर चलने लगे फिर भी जीती इंडिया

 

क्रिकेट, वर्ल्ड कप और भारत-पाकिस्तान मैच। यानी रोमांच का ट्रिपल डोज। 23 अक्टूबर को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर फिर दोनों टीमें आमने-सामने होंगी। इस बार मौका टी-20 वर्ल्ड कप का है। दोनों टीमों के फैंस को एक और हाई वोल्टेज मैच का इंतजार है।

 

इस स्टोरी में हम ऐसे 10 भारत-पाक मुकाबलों से गुजरेंगे जिनकी यादें हमारे जेहन में अब भी ताजा हैं। इनमें वर्ल्ड कप के साथ-साथ एशिया कप और द्विपक्षीय सीरीज के मुकाबले भी शामिल हैं। शुरुआत उन मुकाबलों से करेंगे जब भारतीय फैंस का दिल टूटा था और आखिरी हिस्से में वो मैच आएंगे जिनको याद कर हम आज भी खुशी से झूम उठते हैं। तो चलिए इस रोमांचक सफर पर…

 

पहले देख लेते हैं अब तक वर्ल्ड कप में खेले गए 13 मुकाबलों के रिजल्ट…

 

 

10. जब पहली बार पाकिस्तान से वर्ल्ड कप में हारा भारत

पहली बार वर्ल्ड कप में भारत पाकिस्तान की भिड़ंत 1992 में हुई थी और इसके बाद खेले गए 12 मुकाबलों में भारतीय टीम लगातार जीत दर्ज करते आ रही थी, लेकिन 2021 के टी-20 वर्ल्ड में सब बदल गया। पहली बार वर्ल्ड कप के इतिहास में पाकिस्तान की टीम ने भारत को हराया।

 

भारत ने टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए 151/7 का स्कोर बनाया। पाकिस्तान की जीत में बड़ा रोल युवा तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी ने निभाया था।

 

उन्होंने अपने पहले दो ओवरों में रोहित शर्मा को 0 और केएल राहुल को 3 रन पर आउट कर दिया था। बाद में विराट कोहली जो 57 रन बनाकर खेल रहे थे उनको भी पवेलियन की राह दिखाई। इस शानदार प्रदर्शन के लिए शाहीन को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

 

152 के लक्ष्य का पीछा कर रही पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाजों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए मैच को एकतरफा बना दिया। बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान ने टीम इंडिया के गेंदबाजों को कोई मौका ही नहीं दिया। शुरू से ही दोनों बल्लेबाज टीम इंडिया के गेंदबाजों पर हावी रहे और मुकाबला 13 गेंद पहले 10 विकेट से जीतकर अपने नाम किया। बाबर ने 68 और रिजवान ने 79 रन बनाए थे।

 

9. अफरीदी ने अश्विन को छक्का मारा और पाकिस्तान जीत गया

2014 के एशिया कप में छठा मुकाबला खेला जा रहा था। पाकिस्तान को आखिरी ओवर में जीत के लिए 10 रनों की दरकार थी। कप्तान विराट कोहली ने आर अश्विन को गेंदबाजी करने के लिए बुलाया। पहली ही गेंद पर सईद अजमल को उन्होंने क्लीन बोल्ड कर इंडिया की जीत की आस जगा दी।

 

क्रीज पर नए आए जुनैद खान ने बड़ी समझदारी के साथ अपना विकेट बचाया और स्ट्राइक शाहिद अफरीदी को थमा दी। अफरीदी ने तीसरी गेंद पर दमदार छक्का जमाया। उनके उस छक्के ने मैच पूरी तरह पाकिस्तान की गिरफ्त में कर दिया।

 

अब जीत के लिए कुल 4 रनों की जरूरत थी और अफरीदी के पास खेलने के लिए तीन गेंदों का मौका। अफरीदी ने अश्विन के ओवर की चौथी गेंद पर जोरदार प्रहार किया। गेंद उनके बल्ले का ऊपरी किनारा लेकर हवा में ऊंची उछली। ऐसा लग रहा था कि गेंद फील्डर के हाथों में गिरेगी, लेकिन अफरीदी के पावर से वह बाउंड्री पार कर गई। मियांदाद स्टाइल छक्के के साथ अफरीदी ने पाकिस्तान को 1 विकेट की रोमांचक जीत दिला दी।

 

 

8. चेतन शर्मा के आखिरी बॉल पर मियांदाद का सिक्स और पाकिस्तान जीता

जब-जब भारत पाकिस्तान के मैच की बात होगी तो जावेद मियांदाद का 1986 में लगाया गया आखिरी बॉल पर छक्का कोई नहीं भूल सकता। टीम इंडिया ने पहले बैटिंग की और पाकिस्तान को 246 का टारगेट दिया। भारत ने 7 विकेट भी गिरा लिए, लेकिन जावेद मियांदाद दीवार बनकर खड़े हो गए। शतक मारा और अब बारी थी आखिरी ओवर की जो चेतन शर्मा को सौंपा गया।

 

अब इस ओवर की पूरी कहानी

पहली बॉल: मियांदाद ने 2 रन लेने की कोशिश की और वसीम अकरम रन आउट हो गए। जीत के लिए 5 बॉल पर चाहिए थे 10 रन।

दूसरी बॉल: जावेद मियांदाद ने मिड विकेट पर चौका लगाया।

तीसरी बॉल: तीसरी बॉल पर मियांदाद ने एक रन लिया।

चौथी बॉल: चौथी बॉल पर चेतन शर्मा ने बोल्ड मारा और पाकिस्तान ने 9 विकेट गंवा दिए।

पांचवीं बॉल: बल्लेबाज ने सिंगल लिया और मियांदाद क्रीज पर आए।

आखिरी बॉल: एक गेंद पर 4 रन चाहिए थे। चेतन शर्मा ने फुलटॉस फेंकी और मियांदाद ने लेग साइड पर सिक्स जड़कर पाकिस्तान को मैच जिता दिया।

 

मियांदाद के उस आखिरी शॉट को आप नीचे देख सकते हैं…

 

Dream 11 Game के लिए पाए सटीक जानकारी और Team Information यहां से 👇👇👇

CrickGuru 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *